इस दिन आ रही है मौनी अमावस्या, करें ये उपाय बन जाएंगे सारे बिगड़े काम

माघ मास के कृष्ण पक्ष को आने वाली अमावस्या को मौनी अमावस्या के नाम से जाना जाता है। इस साल मौनी अमावस्या 24 जनवरी यानी शुक्रवार के दिन आ रही है। शास्त्रों में मौनी अमावस्या या माघी अमावस्या को बेहद ही खास बताया गया है और इस दिन पूजा-पाठ करने से भगवान नारायण की कृपा बन जाती है और जीवन के सारे कष्ट दूर हो जाते हैं।

मौनी अमावस्या का मुहूर्त

24 जनवरी, 2020 को 02:19:25 से अमावस्या आरंभ हो जाएगी जो कि  25 तारीख को 03:13:36 पर समाप्त होगी।

स्नान करने का होता है खास महत्व

मौनी अमावस्या के दिन पवित्र नदियों में स्नान करना लाभकारी साबित होता है। इस दिन पवित्र जल से स्नान करने से शरीर निरोगी बन जाती है और पापों से मुक्ति मिल जाती है। यही वजह है कि लोग मौनी अमावस्या के दौरान पवित्र नदी में डूबकी जरूर लगाया करते हैं। वहीं जो लोग नदी पर जाकर स्नान नहीं कर पाते हैं वो नहाने के पानी में गंगा जल मिलाकर उससे स्नान कर लेते हैं।

मौनी अमावस्या के दिन जरूर करें ये कार्य –

  • मौनी अमावस्या के दिन मंदिर में जाकर अनाज जरूर चढ़ाएं। ऐसा करने से पुण्य हासिल होगा।
  • अगर किसी गंभीर रोग से ग्रस्त हैं तो इस दिन रात के समय चौहराए पर एक दीपक जला आएं। आपको रोग से मुक्ति मिल जाएगी।
  • जिन लोगों को शरीर में ऊर्जा की कमी रहती है वो लोग इस दिन पवित्र नदी में स्नान जरूर करें।
  • सूर्य भगवान की पूजा करें और उन्हें जल अर्पित करें। ये उपाय करने शरीर हमेशा स्वस्थ बना रहेगा।

  • गरीबी और दरिद्रता दूर करने के लिए विष्णु जी की पूजा करें और गरीब लोगों को भोजन करवाएं।
  • तुलसी की पूजा करें और शाम के समय तुलसी के सामने तीन तेल के दीपक जलाएं। दीपक जलाने के बाद तुलसी की सात परिक्रमा करें। तुलसी की पूजा करने से घर में शांति बनीं रहेगी।
  • कुंडली में चंद्रमा के कमजोर होने पर तनाव रहता है और दिमाग सदा अशांत रहता है। अगर आपकी कुंडली में भी चंद्रमा कमजोर है तो मौनी अमावस्या के दिन गाय को दही और चावल खिलाएं। इसके अलावा गरीब लोगों को खीर बांटे।

  • विष्णु जी को प्रसन्न करने के लिए इस दिन पीपल के पेड़ की पूजा करें और पेड़ पर दूध अर्पित करें। दूध चढ़ाने के बाद पीपल के पेड़ पर लाल धागा बांध दें और पेड़ की सात परिक्रमा करें। ये उपाय करने से विष्णु जी की कृपा बन जाएगी।
  • जिन लोगों का व्यापार सही से नहीं चल रहा है वो लोग मौनी अमावस्या के दिन पीपल का पत्ता घर ले आएं और इस पत्ते पर सुपारी रखकर इसकी पूजा करें। पूजा करने के बाद ये पत्ता अपनी तिजोरी में रख दें। ऐसा करने से व्यापार सही से चलने लग जाएगा और धन लाभ होगा।

मौनी अमावस्या का व्रत महत्व

मौनी अमावस्या के दिन मौन व्रत रखा जाता है और पूरे दिन मुंह से एक शब्द तक नहीं निकाला जाता है। हालांकि कई लोग केवल कुछ समय के लिए ही मौन व्रत रखते हैं। मौन व्रत करते हुए विष्णु जी के नामों का जाप करें।

Leave a Reply