पिछले पांच साल से केजरीवाल ने जनता को सिर्फ ठगने का काम किया है, जनता कभी नहीं भूलेगी- अमित शाह

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह का बड़ा बयान, कहा- ‘केजरीवाल वादे भूल चुके हैं, लेकिन जनता कभी भी...’

दिल्ली विधानसभा चुनाव को लेकर सरगर्मियां तेज हो चुकी है। दिल्ली का चुनाव त्रिकोणीय हो चुका है, जिसमें सत्ताधारी पार्टी समेत दो अन्य मजबूत पार्टियां मैदान में हैं। इसी कड़ी में तमाम पार्टियां अपनी जीत का दावा कर रही है, जिसकी वजह से दूसरी पार्टियों पर जमकर आरोप प्रत्यारोप भी लगा रही है। ऐसे में दिल्ली विधानसभा चुनाव के प्रचार का आगाज करते हुए अमित शाह ने आप और कांग्रेस को निशाने पर लिया। जी हां, केंद्रीय गृहमंत्री ने अपने आधे घंटे के संबोधन में अनुच्छेद 370 को हटाने, नागरिकता संशोधन कानून को लागू करने जैसे मुद्दों को उठाया और उसे जनता के सामने रखा है, जिसके बाद उन्होंने आम आदमी पार्टी के मुखिया पर बड़ा बयान दिया है।

अमित शाह ने दिल्ली की जंग को और भी दिलचस्प बनाते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को उनके पुराने वादे याद दिलाए, जिसे उन्होंने पूरा नहीं किया। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अरविंद केजरीवाल भले ही अपने मुद्दों को भूल जाए, लेकिन जनता कभी नहीं भूलती है, ऐसे में अब इसका हिसाब किताब होना तय है। बता दें कि अमित शाह बीजेपी के चाणक्य माने जाते हैं और वे जहां भी अपनी रणनीति अपनाते हैं, वहां पार्टी को जीत हासिल कराके ही दम लेते हैं, ऐसे में अब देखने वाली बात होगी कि उनके लिए दिल्ली कितनी दूर है।

केजरीवाल को अमित शाह ने दी चुनौती


चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि पांच साल पहले के वादे अरविंद केजरीवाल भले ही भूल चुके हों, लेकिन जनता कभी नहीं भूल सकती। केजरीवाल पर हमला बोलते हुए उन्होंने कहा कि केजरीवाल के कारण केंद्र सरकार की ओर से चलाई जा रही जनकल्याण से जुड़ी 112 योजनाओं से आज दिल्ली की जनता वंचित है, क्योंकि वे इन योजनाओं को जनता तक पहुंचने ही नहीं देना चाहते थे, ऐसे में  उनका हिसाब किताब तय है।

झूठे नंबर वन हैं केजरीवाल- अमित शाह


जनता को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि केजरीवाल और केंद्र सरकार के बीच पिछले पांच साल  केजरीवाल ने जनता को सिर्फ ठगने का काम किया है। ऐसे में यदि झूठ बोलने की प्रतियोगिता हो तो उसमें वह नंबर वन होंगे। बता दें कि पिछले पांच सालों से केजरीवाल और केंद्र सरकार के बीच इसी तरह की लड़ाई चल रही है, जिसकी वजह से कहानी में ट्विस्ट में आ गया और फिर अब इस मुद्दे को बीजेपी की तरफ से चुनावी मुद्दा बनाया गया और जनता के सामने केजरीवाल की पोल खोलने का काम किया जा रहा है।

अमित शाह ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि केजरीवाल ने एक हजार विद्यालय व 20 नए कॉलेज बनाने की बात कही थी, जिसमें से कुछ नहीं हुआ। साथ ही उन्होंने 15 लाख सीसीटीवी कैमरे लगाने की भी बात कही थी और ये भी पूरा नहीं हुआ। उन्होंने आठ लाख लोगों को रोजगार देने की बात कही थी, लेकिन नए रोजगार तो दूर की बात, जो लोग नौकरी में थे, उन्हें भी नौकरी से निकाल दिया गया। कुल मिलाकर अमित शाह ने केजरीवाल पर जमकर हमला बोला, जिसकी वजह से दिल्ली की सियासत गरमा गई।

Leave a Reply