सुबह-शाम दीपक जलाने से दूर हो जाएंगे आपके सारे दुख, जानिए इसके फायदे और उपाय

शास्त्रों के अनुसार देखा जाए तो पूजा-पाठ, शुभ कार्य, उत्सव या किसी भी त्यौहार पर दीपक जरूर जलाया जाता है। इन सभी की शुरुआत दीप जलाने से ही की जाती है। शास्त्रों में दीपक जलाने के एक नहीं बल्कि बहुत से फायदे बताए गए हैं। धर्म शास्त्रों के अनुसार अग्नि पृथ्वी पर सूर्य का बदला हुआ रूप है। ऐसा माना जाता है कि अग्निदेव को साक्षी मानकर उनकी मौजूदगी में किए गए कार्यों में सफलता अवश्य प्राप्त होती है। प्रकाश को ज्ञान का प्रतीक भी माना जाता है। प्रकाश से मन के सभी प्रकार के विकार दूर हो जाते हैं, इतना ही नहीं बल्कि जीवन के कष्ट भी समाप्त होते हैं। अगर आप सुबह-शाम दीपक जलाते हैं तो इससे आपको कई प्रकार के लाभ मिलेंगे। आज हम आपको दीपक जलाने के नियम, फायदे और कुछ उपायों के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं।

पूर्णिमा पर किया जाता है दीपदान

  • अग्नि पुराण के अनुसार देखा जाए तो अगर कोई मनुष्य या ब्राह्मण घर में 1 वर्ष तक दीप दान करता है तो उसको अपने जीवन में सब कुछ मिलता है।
  • चार्तुमास, पूरे अधिकमास, अधिकमास की पूर्णिमा के दिन मंदिर या पवित्र नदियों के किनारे दीपदान करने वाले मनुष्य को विष्णु लोक की प्राप्ति होती है।
  • मान्यता अनुसार दीपदान करते वक्त भगवान स्वयं उपस्थित रहते हैं, इस वजह से अगर उस दौरान आप अपने मन की कोई भी मुराद मांगते हैं तो वह पूरी जरूर होती हैं।

दीपक जलाने के फायदे

  • अगर आप रोजाना सुबह-शाम दीपक जलाते हैं तो दीप की ज्योति से समस्त पाप नष्ट होकर जीवन में सुख-समृद्धि, आयु, सुखमय जीवन में वृद्धि होती है।
  • गाय के घी का दीपक जलाने से वातावरण में मौजूद सभी रोगाणु नष्ट हो जाते हैं।
  • दीपक जलाने से हमें अपने जीवन में हमेशा ऊंचा उठने की प्रेरणा मिलती है। जीवन का अंधकार दूर हो जाता है।

दीपक जलाने के नियम

  • ऐसा माना जाता है कि अगर दीपक की लौ उत्तर दिशा की तरफ रखा जाए तो इससे स्वास्थ्य और प्रसन्नता में बढ़ोतरी होती है।
  • अगर आप दीपक की लौ पूर्व दिशा की तरफ रखते हैं तो इससे आयु की वृद्धि होती है।
  • अगर आप मिट्टी का दीप जला रहे हैं तो आपको इस बात का ध्यान रखना होगा कि दीपक साफ और साबुत होना चाहिए। पूजा में टूटा हुआ दीपक अशुभ माना जाता है।
  • वास्तु नियम के अनुसार अखंड दीपक पूजा स्थल के आग्नेय कोण में रखना चाहिए, इससे शत्रु पर विजय हासिल होती है और घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है।
  • ऐसा बताया जाता है कि विषम संख्या में दीपक जलाने से वातावरण में सकारात्मक ऊर्जा का निर्माण होता है, इसी कारण धार्मिक कार्यों में हमेशा विषम संख्या में दीप जलाए जाते हैं।

दीपक के उपाय

  • यश-वैभव की प्राप्ति करने के लिए आप दिवाली के दिन माता लक्ष्मी जी के समक्ष सात मुखी दीपक जरूर जलाएं, इससे माता लक्ष्मी जी प्रसन्न होंगी और जीवन में कभी भी धन की कमी उत्पन्न नहीं होगी।
  • अगर आप आर्थिक तरक्की प्राप्त करना चाहते हैं तो पूजा के दौरान गाय के घी का दीपक जलाएं।
  • अगर आप दिवाली के दिन घी के दीपक के साथ-साथ तिल के तेल का अखंड ज्योत जलाते हैं तो इससे देवी-देवता प्रसन्न होते हैं।
  • राहु-केतु को शांत करने के लिए अलसी के तेल का दीपक जलाएं।
  • अगर आप भगवान विष्णु जी को प्रसन्न करना चाहते हैं तो इसके लिए गोल और गहरा दीपक जला सकते हैं।

Leave a Reply