मलमास पूर्णिमा पर करें ये उपाय, सभी मुरादें होंगी पूरी, धन लक्ष्मी चाहने वाले जरूर करें ये काम

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार यदि किसी शुभ दिन माता लक्ष्मी जी से जुड़े हुए कुछ उपाय किए जाए तो इससे मां लक्ष्मी का आशीर्वाद मिलता है और जीवन में हर तरफ से शुभ फल की प्राप्ति होती है। ऐसे बहुत से मौके हैं जिन पर लोग तरह-तरह के उपाय अपनाकर माता लक्ष्मी जी को प्रसन्न करने की कोशिश करते हैं। आपको बता दें कि पूर्णिमा का दिन महालक्ष्मी जी को समर्पित है। आश्विन अधिकमास की शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा तिथि को मलमास की पूर्णिमा मनाई जाती है। शास्त्रों के अनुसार यह तिथी बहुत महत्वपूर्ण मानी गई है। 01 अक्टूबर यानी गुरुवार को मलमास पूर्णिमा पड़ रही है और इस दिन सर्वार्थ सिद्धि योग का भी निर्माण हो रहा है। अगर आप चाहते हैं कि आपके घर में हमेशा धन की लक्ष्मी जी वास करें और आपके जीवन में कभी किसी चीज की कमी ना हो तो इस दिन आप कुछ ज्योतिषीय उपाय अपना सकते हैं। तो चलिए जानते हैं मलमास पूर्णिमा से जुड़े हुए ज्योतिष उपाय….

मलमास पूर्णिमा पर करें यह उपाय

मलमास पूर्णिमा पर मां लक्ष्मी को यह चीजें चढ़ाने से होगी धन में वृद्धि

यदि आप माता लक्ष्मी जी की कृपा प्राप्त करना चाहते हैं तो इसके लिए मलमास की पूर्णिमा के दिन धन की देवी माता लक्ष्मी जी को कमल या फिर गुलाब के फूल अर्पित जरूर कीजिए। सुबह और शाम के समय माता लक्ष्मी जी की पूजा-अर्चना और आरती कीजिए। प्रसाद में आप दो लौंग अर्पित करें। पूजा समाप्त करने के बाद आप प्रसाद के रूप में एक लौंग ग्रहण कीजिए। आप एक लौंग को संभाल कर अपने पास बटुए में रख लीजिए। ऐसा करने से धन में वृद्धि होगी और कर्जो से भी छुटकारा मिलता है।

मलमास पूर्णिमा पर यह चीजें दान करने से मिलेगा मां लक्ष्मी का आशीर्वाद

शास्त्रों के अनुसार ऐसा बताया जाता है कि मलमास पूर्णिमा की तिथि पर अगर कुछ चीजें दान की जाए तो इससे माता लक्ष्मी जी का आशीर्वाद मिलता है और व्यक्ति को हर क्षेत्र में सफलता हासिल होती है। आप मलमास पूर्णिमा की तिथि पर कपड़े और अन्न का दान कर सकते हैं। ऐसा करने से घर-परिवार के सभी सदस्यों के बीच आपसी प्रेम बना रहेगा और जीवन की तमाम समस्याओं का समाधान हो जाएगा, इतना ही नहीं बल्कि इससे ग्रह-नक्षत्र के बुरे प्रभाव भी खत्म हो जाते हैं।

मलमास पूर्णिमा पर यह पाठ करने से होगी धन-धान्य में वृद्धि

विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ मलमास पूर्णिमा के दिन करना बहुत ही उत्तम माना जाता है। अगर आप इस दिन यह पाठ करते हैं तो भगवान विष्णु जी के साथ-साथ धन की देवी माता लक्ष्मी जी की भी कृपा दृष्टि हमेशा बनी रहती है। ऐसा बताया जाता है कि मलमास की पूर्णिमा के दिन यह पाठ करने से व्यक्ति को मृत्यु के बाद बैकुंठ धाम की प्राप्ति होती है। शास्त्रों के अनुसार विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करने से व्यक्ति का भाग्य खुलता है और जीवन में कभी भी धन से जुड़ी हुई परेशानियां उत्पन्न नहीं होती है। यह पाठ करने से धन-धान्य में लगातार बढ़ोतरी होने लगती है।

मलमास पूर्णिमा पर करें यह पाठ होगी ऐश्वर्य की प्राप्ति

आप मलमास की पूर्णिमा के दिन लक्ष्मी स्रोत या कनकधारा स्त्रोत का पाठ जरूर करें। शास्त्रों के अनुसार यह दोनों पाठ करने से ऐश्वर्य की प्राप्ति होती है।

Leave a Reply