पिता ने अपनी मासूम बेटियों को झील में फेंका, युवक ने बचाई बच्चियों की जान

हिमाचल प्रदेश में एक पिता ने अपनी दो महसूम बेटियों को झील में धक्का देकर उन्हें मारने की कोशिश की है। ये दिल दहला देने वाली वारदात हिमाचल प्रदेश के बंगाणा के पास घटी है। बताया जा रहा है कि चमकौर सिंह नाम व्यक्ति ने उस वक्त अपनी दो महसूस बेटियों को झील में धक्का दे दिया जब वो अपने परिवार के साथ बोट पर बैठकर अपने घर जा रही थी। मौके पर मौजूद लोगों के अनुसार चमकौर सिंह अपने परिवार के सदस्यों के साथ बोट पर बैठा हुआ था और उसी दौरान उसने अपनी दो बच्चियों को झील में फेंक दिया। जिसके बाद एक व्यक्ति ने झील में छलांग लगाकर इन बच्चों को डूबने से बचाया।

बाबा बालक नाथ के दर्शन करने के लिए आए थे हिमाचल

ये वारदात लाठियानी नामक जगह के पास हुई है। बताया जा रहा है कि पंजाब का रहने वाल चमकौर सिंह अपने भाई के परिवार, अपनी पत्नी, दो बेटियों और एक बेटा के साथ हिमाचल प्रदेश में स्थित बाबा बालक नाथ मंदिर दियोटसिद्ध के दर्शन करने के लिए आया हुआ था। दर्शन करने के बाद ये लाठियानी के पास स्थित झील के रास्ते वोट पर सवार होकर अपने गांव वापस जा रहा था। उसी दौरान इसने अपनी दो बेटियों को झील में फेंक दिया। वहीं चमकौर सिंह जब इस वारदात को अंजाम दे रहा था, तो वहां पर मौजूद लाठियानी के युवक सुनील कुमार ने उसे ऐसा करते हुए देख लिया और लड़कियों को पानी में डूबता हुआ देख सुनील कुमार ने झील में छलांग लगाकर इन लड़कियों को बचा लिया।

बेटियों ने भीड़ से बचाया पिता को

इस घटना के बाद इस जगह पर मौजूद लोगों ने ओरोपी और उसके परिवार वालों को पकड़ लिया और चमकौर सिंह की पिटाई करना शुरु कर दिया। हालांकि अपने पिता को पीटता देख ये लड़कियां रोने लगी और लोगों से अपने पिता को छोड़ने की गुहारा करने लगी। जिसके बाद लोगों ने इनके पिता को मारना बंद कर दिया और इस घटना की सूचना पुलिस को दे दी।

बताया मानसिक रोगी

मौके पर पुलिम ने आकर चमकौर सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। लेकिन चमकौर सिंह के परिवार वालों का कहना है कि वो दिमागी रुप से कमजोर है और उसे नहीं पता चलता है कि वो क्या कर रहा है। परिवार वालों के इस दावे पर पुलिस ने चमकौर सिंह की मेडिकल रिपोर्ट उनसे मांगी मगर परिवार वालों के पास चमकौर सिंह की कोई भी मेडिकल रिपोर्ट नहीं थी। जिसके चलते उसे गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के अनुसार चमकौर सिंह पंजाब के लुधियाना में सदवां गांव का रहने वाला है और ये अपने पूरे परिवार समेत बाबा बालक नाथ मंदिर दियोटसिद्ध में दर्शन करने आया था। वहीं दर्शन करने के बाद ये अपने घर वापस जा रहे थे और उसी दौरान इसने बेटियों को झील में धक्का दिया। पुलिस के मुताबिक चमकौर सिंह का एक बेटा भी है और जिन दो बेटियों को इसने धक्का मारा है उनकी आयु 5 और 12 साल की है।

Leave a Reply