जानिए कब से शुरू है सावन का पवित्र महीना? इस बार विशेष संयोग में होगी शिव पूजा

अध्यात्म

देवों के देव महादेव को सावन का महीना अति प्रिय है, हिंदू धर्म में भी सावन के महीने को अधिक महत्वपूर्ण बताया जाता है, सावन में भगवान शिव जी की विशेष पूजा अर्चना की जाती है, अगर हम धार्मिक मान्यताओं के अनुसार देखे तो सावन का पवित्र महीना शिव शंकर को समर्पित है, इस महीने में भक्त भगवान शिव जी की पूजा अर्चना करते हैं और इनसे अपनी मनोकामनाएं पूरी करने की प्रार्थना करते हैं, ऐसा बताया जाता है कि जो व्यक्ति सावन के महीने में भोले शंकर जी की पूजा अर्चना करता है उसकी सभी मनोकामनाएं पूरी होती है, इसी वजह से यह महीना मनोकामना को पूरा करने वाला भी बताया गया है, इस महीने में शिव जी भक्तों से प्रसन्न होकर ढेर सारा आशीर्वाद देते हैं, इस महीने में शिव की विशेष पूजा से मनुष्य को विशेष फल की प्राप्ति होती है, आज हम आपको इस बार सावन का पवित्र महीना कब से शुरू हो रहा है? इसके बारे में जानकारी देने वाले हैं, इस बार का सावन विशेष संयोग में मनाया जाएगा, इसलिए इसको अत्यंत फलदाई बताया जा रहा है।

जानिए कब से आरंभ होगा सावन का पवित्र महीना

सावन का पावन महीना वर्ष 2020 में 6 जुलाई 2020 से शुरू होने वाला है और सबसे महत्वपूर्ण बात इस बार के सावन की यह है कि इसकी शुरुआत ही सोमवार के दिन से हो रही है और 3 अगस्त 2020 को सावन के पवित्र महीने का समापन हो जाएगा आपको बता दें कि आखरी दिन भी सोमवार पड़ रहा है, इस वर्ष का सावन विशेष संयोग में मनाया जाने वाला है, ऐसा बहुत ही कम देखने को मिलता है कि सावन की शुरुआत और इसका समापन सोमवार को होता है, इसलिए यह सावन बहुत ही खास रहने वाला है।

सावन में बन रहा है विशेष संयोग

धार्मिक नजरिए से देखा जाए तो इस बार का सावन अद्भुत संयोग में मनाया जाएगा, सावन की शुरुआत और इसका समापन सोमवार को ही पड़ रहा है, जो बहुत ही अद्भुत संयोग माना जाता है, आप सावन के सोमवार में भगवान शिव की आराधना करके मनोवांछित फल प्राप्त कर सकते हैं।

सावन महीने में शिव पूजन का महत्व

अगर हम हिंदू मान्यता अनुसार देखे तो सावन के महीने में जो सोमवार आते हैं, उस दिन अगर शिवलिंग की पूजा की जाए तो इससे भक्तों को विशेष फल मिलता है, अगर सावन के सोमवार पर कुंवारी लड़कियां पूजा करती है तो इससे मनचाहे वर की प्राप्ति होती है, शिव पुराण के अनुसार सावन महीने के सोमवार का व्रत करने से भगवान शिव सारी मनोकामनाएं पूरी करते हैं।

सावन के महीने में मां पार्वती ने किया था कठोर तप

धार्मिक कथाओं में इस बात का उल्लेख किया गया है कि देवी पार्वती जी ने भगवान शिव जी को प्राप्त करने के लिए सावन के महीने में कठोर तप किया था, शिव जी को पति के रूप में पाने के लिए मां पार्वती ने इस महीने में तपस्या की थी।

सावन महीने में दूर होती हैं दांपत्य जीवन की परेशानियां

  1. धार्मिक मान्यताओं के अनुसार अगर सावन के महीने में शिव जी की पूजा अर्चना की जाए तो इससे दांपत्य जीवन से जुड़ी हुई सभी परेशानियों का अंत होता है और भोले बाबा की विशेष कृपा मिलती है।
  2. अगर आप सावन महीने में भगवान शिव जी की विशेष पूजा अर्चना करते हैं तो आपकी शादीशुदा जिंदगी में कोई भी परेशानी उत्पन्न नहीं होती है, अगर आपके वैवाहिक जीवन में दिक्कत चल रही है तो आप सावन के पवित्र महीने में भगवान शिव जी की पूजा अवश्य कीजिए।

Leave a Reply