देवी दुर्गा इस नवरात्रि हर लेंगीं सारे कष्ट, पूजा के दौरान करें इन छोटे-छोटे मंत्रों का जाप

अध्यात्म

9 दिनों तक देवी दुर्गा की आराधना का चलने वाला पर्व यानी चैत्र नवरात्रि बहुत ही शीघ्र शुरू होने वाली है, 25 मार्च से चैत्र नवरात्रि की शुरुआत होगी और इन दिनों में देवी मां के अलग-अलग रूपों की पूजा की जाती है, ऐसा बताया जाता है कि अगर नवरात्रि के दिनों में देवी मां की विधि विधान पूर्वक पूजा की जाए तो इससे माता रानी जल्दी प्रसन्न होती हैं और अपने भक्तों के सभी कष्ट दूर करती है, अक्सर भक्त अपनी मनोकामना को पूरा करने के लिए देवी मां की पूजा आराधना करते हैं और इन दिनों में तरह तरह के उपाय भी अपनाते हैं।

आज हम आपको पुराणों में बताए गए कुछ ऐसे मंत्रों के बारे में जानकारी देने वाले हैं जिनका जाप अगर आप देवी मां की पूजा के दौरान करते हैं तो आपकी बहुत सी इच्छा पूरी हो सकती हैं और माता रानी आपके कष्ट दूर करेंगीं, दरअसल देवी पुराण में कुछ ऐसे मंत्रों का जिक्र किया गया है जिनका अगर नवरात्रि की पूजा के दौरान जाप किया जाए तो इससे मां दुर्गा का आशीर्वाद मिलता है और इनकी कृपा से व्यक्ति की बहुत सी इच्छाएं जल्द पूरी हो सकती है।

अपनी मनोकामना अनुसार चैत्र नवरात्रि में करें इन मंत्रों का जाप

1. धन संबंधित परेशानियों से मुक्ति पाने के लिए

मनुष्य के जीवन में धन की समस्या एक सबसे महत्वपूर्ण समस्या है, क्योंकि हर कोई व्यक्ति अधिक से अधिक धन कमाना चाहता है परंतु उसकी कोशिशों के बावजूद भी धन कमाने के मार्ग में बहुत सी परेशानियां उत्पन्न होने लगती है, अगर आपके जीवन में भी धन से संबंधित परेशानियां चल रही हैं और आप इसको दूर करना चाहते हैं तो इसके लिए आप मंत्र “दुर्गे स्मृता हरसि भीतिमशेषजन्तोः। सवर्स्धः स्मृता मतिमतीव शुभाम् ददासि।।” का जाप देवी मां की पूजा के दौरान करें।

2. बुरे समय से छुटकारा पाने के लिए

अगर आपके जीवन में कठिन समय चल रहा है और अपने बुरे दौर से जल्द से जल्द छुटकारा प्राप्त करना चाहते हैं तो आप देवी मां की पूजा के दौरान मंत्र “शरणागतदीनार्तपरित्राणपरायणे। सर्वस्यार्तिहरे देवि नारायणि नमोऽस्तु ते।।” का जाप कीजिए।

3. जीवन की बाधाओं से मुक्ति प्राप्ति हेतु

अगर आप अपने जीवन की परेशानियों और बाधाओं से मुक्ति प्राप्त करना चाहते हैं तो नवरात्रि में देवी दुर्गा की पूजा के दौरान आप मंत्र “सर्वस्य बुद्धिरुपेण जनस्य हृदि संस्थिते। स्वर्गापवर्गदे देवि नारायणि नमोऽस्तु ते।” का जाप कीजिए, इससे आपको बहुत ही शीघ्र लाभ मिलेगा।

4. मान-सम्मान प्राप्ति हेतु

अगर किसी कारणवश समाज में आपकी छवि खराब हो गई है, अगर आप चाहते हैं कि आपको दोबारा से मान सम्मान मिले तो आप नवरात्रि में माता की पूजा के दौरान मंत्र “ॐ महामायां हरेश्चैषा तया संमोह्यते जगत्, ज्ञानिनामपि चेतांसि देवि भगवती हि सा। बलादाकृष्य मोहाय महामाया प्रयच्छति।।” का जाप कीजिए, इससे आपकी खोई हुई प्रतिष्ठा वापस मिलेगी।

5. भविष्य के संकेतों के लिए

अगर आप चाहते हैं कि आपको भविष्य में होने वाले संकेतों का अंदाजा हो जाए तो इसके लिए आप देवी दुर्गा की पूजा के दौरान मंत्र “दुर्गे देवि नमस्तुभ्यं सर्वकामार्थसाधिके। मम सिद्धिमसिद्धिं वा स्वप्ने सर्वं प्रदर्शय।। “ का जाप कीजिए।

6. गुणवान और शक्तिशाली बनने के लिए

अगर आप मंत्र “सृष्टिस्थितिविनाशानां शक्ति भूते सनातनि। गुणाश्रये गुणमये नारायणि नमोऽस्तु ते।।” का जाप नवरात्रि में देवी मां की पूजा के दौरान करते हैं तो इससे आप गुणवान और शक्तिशाली बनते हैं।

7. पारिवारिक खुशियों के लिए

अगर आप नवरात्रि में शक्ति मां की पूजा के दौरान मंत्र “प्रणतानां प्रसीद त्वं देवि विश्वार्तिहारिणि। त्रैलोक्यवासिनामीडये लोकानां वरदा भव।।” का जाप करते हैं तो इससे आपको लाभ मिलेगा, इस मंत्र का जाप करने से आपके जीवन की सभी परेशानियां दूर होंगी और आपका जीवन खुशहाली पूर्वक व्यतीत होगा, इतना ही नहीं बल्कि इससे घर परिवार की खुशियां भी बनी रहेगी।

8. अच्छे स्वास्थ्य, धन-ऐश्वर्य के लिए

अगर आप शारीरिक स्वास्थ्य से संबंधित परेशानियों से छुटकारा प्राप्त करना चाहते हैं तो इसके लिए आप मंत्र “ऐश्वर्य यत्प्रसादेन सौभाग्य-आरोग्य सम्पदः। शत्रु हानि परो मोक्षः स्तुयते सान किं जनै।।” का जाप कीजिए, यदि आप इस मंत्र का जाप करते हैं तो इससे स्वास्थ्य लाभ के साथ-साथ धन-ऐश्वर्य की भी प्राप्ति होती है।

9. संतान सुख प्राप्ति हेतु

अगर कोई व्यक्ति संतान सुख की प्राप्ति करना चाहता है तो इसके लिए नवरात्रि में माता की पूजा आराधना के दौरान मंत्र “सर्वाबाधा वि निर्मुक्तो धन धान्य सुतान्वितः। मनुष्यो मत्प्रसादेन भवष्यति न संशय॥” का जाप कीजिए, ऐसा बताया जाता है कि यदि इस मंत्र का नियमित रूप से जाप किया जाए तो इससे व्यक्ति को बहुत ही जल्द संतान सुख की प्राप्ति होती है।


Leave a Reply