त्रयोदशी शनिवार आज करें ये साधारण उपाय, हर मुराद होंगी पूरी, शनिदेव और हनुमानजी की बरसेगी कृपा

अध्यात्म

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार देखा जाए तो ग्रहों की स्थिति के अनुसार ही व्यक्ति का भाग्य तय होता है। यदि कुंडली में ग्रहों की चाल ठीक होती है तो इसकी वजह से जीवन में शुभ परिणाम मिलते हैं। अगर हम सभी ग्रहों में से शनि ग्रह की बात करें तो यह ग्रह बहुत ही क्रूर माना माना जाता है। यदि किसी व्यक्ति की कुंडली में शनि ग्रह की स्थिति ठीक नहीं है तो इससे जीवन में अशुभ प्रभाव मिलते हैं। जीवन में कई कठिनाइयां और दुख आने लगते हैं। अगर आप शनि ग्रह के प्रभावों को दूर करना चाहते हैं तो इसके लिए आप कुछ साधारण से उपाय कर सकते हैं।

ज्योतिष के जानकारों के अनुसार अगर शनिवार के दिन शनि के प्रकोप से बचने के उपाय किए जाए तो इसका शुभ परिणाम मिलता है, परंतु त्रयोदशी शनिवार के दिन कुछ साधारण उपायों से इसका तुरंत परिणाम देखने को मिलता है।

त्रयोदशी शनिवार के दिन करें यह साधारण उपाय

  • अगर आप शनि के बुरे प्रभाव से बचना चाहते हैं तो इसके लिए त्रयोदशी शनिवार के दिन तेल, तिल, नीलम रत्न, काली भैंस, काला कंबल या कपड़ा, लोहा जरूरतमंद और ब्राह्मणों को दान कर सकते हैं, इससे आपको अपने जीवन में अच्छे परिणाम मिलेंगे। अगर आप बेहद शुभ परिणाम प्राप्त करना चाहते हैं तो इस दिन उपवास अवश्य करें। इसके अलावा आप त्रयोदशी शनिवार के दिन अगर जरूरतमंद लोगों को एक जोड़ी जूता, उड़द की दाल, लोहा आदि दान करते हैं तो इससे आपके जीवन के बहुत से कष्ट दूर होंगे और शनि देव की कृपा दृष्टि आपके ऊपर हमेशा बनी रहेगी।
  • आप शनिवार के दिन व्रत जरूर कीजिए। सूर्यास्त के पश्चात आप चावल और काली उड़द की दाल की खिचड़ी बनाकर भगवान को भोग लगाएं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार यदि यह उपाय शनि त्रयोदशी के दिन किया जाए तो इससे उत्तम फल की प्राप्ति होती है।

  • अगर हम पौराणिक कथाओं के मुताबिक देखे तो महाबली हनुमान जी ने शनि देव को रावण के चंगुल से बचाया था। तब शनिदेव ने भगवान हनुमान जी से यह वादा किया था कि जो व्यक्ति हनुमान की पूजा करेगा, उसके ऊपर शनि का बुरा प्रभाव नहीं होगा, इसलिए आप शनि ग्रह के बुरे प्रभाव को दूर करने के लिए हनुमान जी की पूजा अवश्य कीजिए।

  • अगर आप शनि ग्रह के बुरे प्रभावों से बचना चाहते हैं तो इसके लिए आप पीपल की के पेड़ की पूजा कीजिए। ऐसा माना जाता है कि पीपल के पेड़ में भगवान विष्णु जी निवास करते हैं। अगर आप शनिवार के दिन पीपल के पेड़ की पूजा करते हैं, जड़ में जल अर्पित करके सात परिक्रमा करते हैं तो शनि दोषों से छुटकारा मिलता है।
  • शनि ग्रह के अशुभ प्रभाव से बचने के लिए आप इस दिन गुड़ और तिल मिलाकर जमीन के किसी एक क्षेत्र में बिखेर दीजिए।

उपरोक्त त्रयोदशी शनिवार के कुछ उपायों के बारे में जानकारी दी गई है। अगर आप यह साधारण से उपाय करते हैं तो इससे शनि दोष दूर होगा और शनि देवता के साथ-साथ हनुमान जी की भी कृपा दृष्टि आपके ऊपर हमेशा बनी रहेगी। शनि देव को कर्म फल दाता कहा जाता है, इसलिए आप अपने कर्मों को हमेशा अच्छा रखें। इससे शनि कृपा आपके ऊपर बनी रहेगी।


Leave a Reply