धार्मिक ग्रंथों के अनुसार गाय से जुड़े शुभ शकुन और कुछ उपाय आपके जीवन को बना सकते हैं खुशहाल

आप लोग गाय के बारे में तो जानते ही होंगे, हिंदू धर्म में गाय को माता का दर्जा दिया गया है, धार्मिक ग्रंथों के अनुसार गाय सृष्टि की माता कही जाती है, सभी लोग गाय को माता मानकर इसकी पूजा करते हैं परंतु कुछ लोग ऐसे हैं जो गाय से जुड़े हुए कुछ शुभ शकुन की बातों से अनजान है, गाय सहज रूप से भारतीय जनमानस में रची बसी है, गाय की सेवा करना बहुत ही शुभ माना गया है, आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से गाय से जुड़े हुए शुभ शगुन और कुछ उपायों के बारे में जानकारी देने वाले हैं, जिससे आप अपने जीवन की परेशानियां समाप्त कर सकते हैं और ग्रह दोषों से भी छुटकारा मिलेगा।

आइए जानते हैं गाय से जुड़े शुभ शकुन और कुछ उपायों के बारे में

  • अगर किसी व्यक्ति की कुंडली में राहु के द्वारा परेशानियां उत्पन्न हो रही है या फिर सूरह नीच राशि तुला पर होने की वजह से अशुभ फल मिल रहे हैं तो इस स्थिति में आप गाय की पूजा कीजिए क्योंकि गाय की नाड़ी में सूर्य केतु होते हैं, अगर आप इसकी पूजा करेंगे तो यह दोष दूर हो सकते हैं।
  • आप लोगों ने गाय की पीठ पर कूबड़ देखा होगा, यह कूबड़ बृहस्पति माने गए हैं, अगर किसी व्यक्ति की कुंडली में बृहस्पति की अशुभ स्थिति है तो ऐसे में आप गाय के कूबड़ के दर्शन कीजिए और गाय को गुड़ और चना दाल रखकर रोटी खिलाएं।
  • अगर किसी व्यक्ति को सोते समय बुरे सपने दिखाई दे रहे हैं तो ऐसे में व्यक्ति को गाय माता का नाम लेना चाहिए, ऐसा करने से बुरे सपने आने बंद हो जाएंगे।
  • अगर आप किसी यात्रा पर जा रहे हैं और यात्रा पर जाने के दौरान आपको रास्ते में अपनी दाहिनी तरफ गाय माता दिखाई देती है तो यह शुभ माना जाता है, इसका अर्थ होता है कि आप जिस यात्रा पर जा रहे हैं वह यात्रा सफल होने वाली है।

  • अगर यात्रा की शुरुआत में आपके समक्ष कोई गाय आ जाती है या फिर कोई गाय अपने बछड़े को दूध पिलाते हुए आपको सामने नजर आती है तो यह शुभ संकेत माना जाता है।
  • अगर आपके घर में वास्तु दोष है तो ऐसे में अपने घर में गाय पालना चाहिए, इससे वास्तु दोष समाप्त होते हैं।
  • अगर किसी व्यक्ति की जन्म कुंडली में सूर्य चंद्र कमजोर है तो ऐसे में अगर आप गाय माता की आंखों के दर्शन करते हैं तो इससे आपको लाभ मिलता है।
  • गाय माता को व्यक्ति का भाग्य सवारने वाली माना गया है, गाय के घी का एक नाम आयु भी है, गाय के दूध और घी से व्यक्ति दीर्घायु होता ,है अगर किसी व्यक्ति की हथेली पर हस्तरेखा में आयु रेखा टूटी हुई है तो ऐसे में आप गाय के घी का इस्तेमाल कीजिए और गाय माता की पूजा कीजिए।
  • अगर किसी व्यक्ति की कुंडली में शुक्र की स्थिति नीच है तो इसकी वजह से उस व्यक्ति को अपने जीवन में अशुभ समय का सामना करना पड़ता है, अगर आप शुक्र की स्थिति ठीक करना चाहते हैं तो इसके लिए सुबह के समय भोजन में से एक रोटी सफेद रंग की गाय को खाने के लिए दीजिए, इस उपाय को करने से शुक्र की स्थिति ठीक होती है और शुक्र से मिलने वाले बुरे परिणाम समाप्त होते हैं।

Leave a Reply