सूर्यदेव की इस प्रकार पूजा विधि तमाम दुखों और रोगों का करेगी अंत, और जानिए चमत्कारिक उपाय

अध्यात्म

सूर्य भगवान को जीवन, स्वास्थ्य और शक्ति के देवता के रूप में माना जाता है, जैसा कि हम लोग जानते हैं सूर्य देव की कृपा से ही इस धरती पर जीवन संभव है, अगर हम ऋषि-मुनियों के अनुसार देखे तो सूर्य देवता को ज्ञान रूपी ईश्वर बताया गया है, ऐसा कहा जाता है कि अगर व्यक्ति सूर्य देवता की साधना-आराधना करता है तो यह बहुत ही कल्याणकारी सिद्ध होता है, सूर्य देवता एक ऐसे भगवान हैं जिनकी उपासना की जाए तो इससे शीघ्र ही फल की प्राप्ति होती है, भगवान श्री राम जी ने भी सूर्य देवता की साधना की थी, इतना ही नहीं बल्कि भगवान श्री कृष्ण जी के पुत्र सांब ने भी सूर्य देवता की उपासना करके कुष्ठ रोग से मुक्ति प्राप्त की थी।

जानिए सूर्य साधना का महत्व

अगर व्यक्ति भगवान सूर्य देवता की पूजा आराधना करता है तो इससे मनुष्य को अक्षय फल की प्राप्ति होती है, अगर आप अपने सच्चे मन से भगवान सूर्य देव की पूजा करते हैं तो यह आपसे शीघ्र प्रसन्न होते हैं और इनके आशीर्वाद से आपको अच्छी सेहत और सुख समृद्धि की प्राप्ति होती है, सूर्य देवता की अगर कृपा दृष्टि किसी व्यक्ति पर हो तो उस व्यक्ति के जीवन के तमाम दुख दूर होते हैं और सभी रोगों से छुटकारा मिलता है, इतना ही नहीं बल्कि संतान प्राप्ति की मनोकामना भी सूर्य देवता की साधना से पूरी होती है।

रविवार का दिन सूर्य साधना के लिए है महत्वपूर्ण

सूर्य देवता की पूजा आराधना के लिए सबसे शुभ दिन रविवार होता है, रविवार का दिन सूर्य देवता को समर्पित है, अगर आप इस दिन सूर्य देव की साधना आराधना करते हैं तो इससे आपको इनकी कृपा शीघ्र मिलती है, आप रविवार के दिन अपने सच्चे मन से इनकी पूजा कीजिए, यह प्रसन्न होकर आपको आशीर्वाद देंगे।

जानिए सूर्य की साधना की विधि

रविवार के दिन सूर्य देवता की पूजा के लिए आपको सबसे पहले सूर्य उदय होने से पूर्व उठकर स्नान करना होगा, इसके बाद आप उगते हुए सूर्य के दर्शन करते हुए “ॐ घृणि सूर्याय नमः” मंत्र का जाप करते हुए जल अर्पित कीजिए, आप सूर्य देवता को जो जल अर्पित कर रहे हैं उसमें आप रोली, लाल फूल मिला सकते हैं, जब आप सूर्य देवता को जल अर्पित कर ले तब उसके पश्चात आप लाल आसन पर बैठ कर अपना मुंह पूर्व दिशा की तरफ रखें और सूर्य मंत्र का कम से कम 108 बार जाप कीजिए।

इन तीन प्रहर में सूर्य साधना से मिलेगा विशेष फल

  1. अगर आप सुबह के समय सूर्य की साधना करते हैं तो इससे आपको आरोग्य का आशीर्वाद मिलता है।
  2. अगर आप दोपहर के वक्त सूर्य देव की साधना करते हैं तो इससे मान-सम्मान में बढ़ोतरी होती है।
  3. अगर आप शाम के समय सूर्य देव की विशेष साधना करते हैं तो इससे आपका भाग्य खुलता है।

सूर्यदेव को प्रसन्न करने के चमत्कारिक उपाय

  • अगर आप सूर्य देवता का आशीर्वाद प्राप्त करना चाहते हैं तो रोजाना नियमित रूप से सूर्य को अर्घ्य दीजिए।
  • रविवार का व्रत रखना शुभ फलदाई माना जाता है, आप भगवान विष्णु जी की भी उपासना कर सकते हैं।
  • पिता और पिता के संबंधियों का सम्मान कीजिए।
  • आप अगर घर से किसी जरूरी कार्य के लिए निकल रहे हैं तो आप मुंह में मीठा डालकर ऊपर से पानी पीकर ही घर से निकले।

Leave a Reply