शादी में क्यों लगाई जाती है दूल्हा-दुल्हन को हल्दी, जानिए इसका वैज्ञानिक और धार्मिक कारण

अध्यात्म

अगर हम आयुर्वेद की दृष्टि से देखें तो हल्दी का सेवन करना हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद माना गया है, अगर खाने पीने की चीजों में हल्दी का इस्तेमाल किया जाए तो इससे खाने पीने की चीजों का रंग बहुत ही अच्छा होने के साथ-साथ इनके स्वाद में भी बढ़ोतरी हो जाती है, हल्दी के एक नहीं बहुत से फायदे आयुर्वेद में बताए गए हैं, हल्दी एक एंटीबायोटिक का कार्य करती है जो हमें कई तरह से लाभ प्रदान करती है, इसके अलावा अगर कोई धार्मिक कार्य पूजा-पाठ किया जाता है तो उसमें हल्दी का इस्तेमाल अवश्य किया जाता है।

अगर विवाह जैसा शुभ कार्य होता है तो भारतीय परंपरा के अनुसार हल्दी का खासकर प्रयोग किया जाता है, विवाह के रस्मो में दूल्हा और दुल्हन को हल्दी लगाई जाती है, जिसको हम सब लोग हल्दी रस्म कहते हैं परंतु आप लोग जानते हैं कि आखिर शादी में दूल्हा-दुल्हन को हल्दी क्यों लगाई जाती है? आखिर इसके पीछे सही वजह क्या है?

शायद आप लोगों में से बहुत से लोग होंगे जो अपनी अपनी धारणाएं व्यक्त करेंगे परंतु ज्यादातर लोगों को इसका सही जवाब मालूम नहीं होगा, तो चलिए आज हम आपको इस सवाल का जवाब देते हैं कि आखिर शादी में दूल्हा दुल्हन को हल्दी किस वजह से लगाई जाती है, इसके पीछे धार्मिक और वैज्ञानिक कारण क्या है।

शादी में हल्दी लगाने के वैज्ञानिक कारण

  • अगर हम वैज्ञानिक दृष्टि से देखें तो हल्दी में बहुत से औषधीय गुण पाए जाते हैं, अगर चोट या जलन के निशान पर हल्दी लगाई जाती है तो इससे चोट बहुत ही जल्दी ठीक होती है, हल्दी एंटीबायोटिक का एक अच्छा स्रोत माना गया है, एंटीबायोटिक गुणों की वजह से चोट और जलन में यह बहुत ही लाभकारी मानी गई है।
  • अगर किसी व्यक्ति को सिर दर्द या डिप्रेशन जैसी समस्या है तो ऐसी स्थिति में हल्दी का इस्तेमाल करने से यह परेशानी कम हो जाती है।
  • अगर आप हल्दी का इस्तेमाल अपनी त्वचा पर करते हैं तो इससे आपकी त्वचा संबंधित बहुत से फायदे मिलते हैं, इससे आपकी त्वचा का रंग साफ होता है और आपकी त्वचा चमकदार बनती है।

शादी में हल्दी लगाने का धार्मिक कारण

  • अगर हम धार्मिक कारणों के अनुसार देखें तो विवाह जैसे अवसर पर हल्दी लगाना बहुत ही शुभ माना गया है, दूल्हा दुल्हन को शादी पर हल्दी लगाना एक शगुन माना जाता है जो कि बहुत ही जरूरी है।
  • विवाह के अवसर पर दूल्हा दुल्हन को हल्दी इसलिए लगाई जाती है क्योंकि हल्दी लगाने से नकारात्मक ऊर्जा का नाश होता है, अगर नकारात्मक ऊर्जा से बचना है तो इसके लिए हल्दी का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए।
  • अगर शादी पर दूल्हा दुल्हन को हल्दी लगाई जाती है तो इससे बुरी नजर से सुरक्षा होती है, यह परंपरा आज से नहीं बल्कि पुराने जमाने से ही चली आ रही है।

उपरोक्त हमारे द्वारा शादी पर दूल्हा दुल्हन को हल्दी लगाए जाने के पीछे धार्मिक और वैज्ञानिक कारण क्या है? इसके बारे में जानकारी दी गई है, हम उम्मीद करते हैं कि आपको शादी में दूल्हा दुल्हन को हल्दी क्यों लगाई जाती है? इस सवाल का जवाब आपको धार्मिक और वैज्ञानिक कारण से मिल गया होगा, अगर आपको हमारा यह पोस्ट अच्छा लगा तो आप अन्य लोगों में शेयर अवश्य कीजिए।


Leave a Reply