आचार्य चाणक्य अनुसार स्त्रियों की यह 5 आदतें, बनती हैं मुसीबतों का कारण

DMCA.com Protection Status

हमारे समाज में स्त्री जाति को बहुत ही सम्मान दिया जाता है एक स्त्री घर बसा भी सकती है और किसी का घर को बिगाड़ भी सकती है, स्त्री में बहुत शक्ति होती है अगर यह चाहे तो अपने घर परिवार को ठीक प्रकार से चला सकती है परंतु अगर स्त्री अपने पर आ जाए तो यह परिवार बिगाड़ भी सकती है इसीलिए तो स्त्री को सबसे शक्तिशाली माना गया है स्त्रियों के बारे में ऐसा माना जाता है कि स्वयं भगवान भी इनको नहीं समझ सकते की स्त्री के मन में क्या चल रहा है ऐसी कुछ बातें होती है जो अधिकतर स्त्रियों के स्वभाव में शामिल होती है आप सभी लोगों ने आचार्य चाणक्य जी के बारे में तो सुना ही होगा आचार्य चाणक्य जी ने “चाणक्य नीति” नामक एक पुस्तक लिखी थी जिसमें मनुष्य जाति के संदर्भ में बहुत सी बातें बताई गई हैं इन्हीं सब नीतियों में से आचार्य चाणक्य जी ने स्त्रियों की ऐसी पांच आदतों के बारे में उल्लेख किया है जो आदतें मुसीबत का कारण बनती हैं।

आज हम आपको इस लेख के माध्यम से आचार्य चाणक्य जी जी द्वारा बताई गई स्त्रियों की यह पांच आदतें बताने वाले हैं।

आइए जानते हैं आचार्य चाणक्य अनुसार स्त्रियों की इन 5 आदतों के बारे में

  • आचार्य चाणक्य जी ने स्त्रियों के बारे में बताते हुए कहा है कि ज्यादातर स्त्रियों का स्वभाव ऐसा होता है कि वह अचानक ही कोई भी कार्य कर बैठती है वह कोई भी कार्य करने से पहले सोच विचार नहीं करती है बिना सोच-विचार किए कार्य करना स्त्रियों के लिए आम बात है इनकी इन्हीं आदतों की वजह से कई बार यह मुसीबत में फंस जाती हैं।

  • आचार्य चाणक्य अनुसार ज्यादातर स्त्रियां बात बात पर झूठ बोलती रहती हैं इनकी झूठ बोलने की आदत की वजह से कई बार इनको मुसीबत का भी सामना करना पड़ता है।
  • आचार्य चाणक्य जी का कहना है कि ज्यादातर महिलाएं नखरे वाली होती है वह बात बात पर नखरे दिखाती हैं यह स्त्रियां दूसरों पर अपना प्रभाव बनाने के लिए, अन्य व्यक्तियों का ध्यान अपनी ओर आकर्षित करने के लिए तरह-तरह के नखरे करती हैं जो इनकी मुसीबत का कारण बन सकता है।

  • आचार्य चाणक्य जी ने स्त्री जाति के बारे में बताते हुए कहा है कि आमतौर पर ज्यादातर महिलाएं धन की लोभी होती है स्त्रियों को धन और स्वर्ण के प्रति सबसे ज्यादा लगाओ रहता है बहुत सी स्त्रियां ऐसी है जो धन के लालच में सही और गलत के बीच का अंतर भूल जाती है और गलत मार्ग पर चली जाती हैं।
  • आचार्य चाणक्य जी का कहना है कि कुछ महिलाओं की आदत ऐसी होती है कि वह जरूरत से ज्यादा आत्मविश्वास के चलते मूर्खों वाला कार्य कर बैठती हैं जो उनको बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए उनकी इन आदतों की वजह से कई बार बहुत बड़ी समस्या खड़ी हो जाती है।

आचार्य चाणक्य जी एक बहुत ही अच्छे नीतिकार थे इन्होंने मनुष्य जाति को लेकर जो भी बातें बताई हैं वह आजकल के समय में बिल्कुल सत्य हो रही है अगर आचार्य चाणक्य जी द्वारा बताई गई बातों पर व्यक्ति अमल करता है तो वह अपने जीवन में सफलता की ओर बढ़ता है और उसको कभी भी किसी भी मुसीबत का सामना नहीं करना पड़ता है।




Recommended For You

Sohan Mahto

About the Author: Sohan Mahto

में एक सीधा सुलझा हुआ इंसान हु में सत्य बातें लिखने पर विश्वाश रखता हूँ , मेने अभी हिन्दू बुलेटिन पर लिखना सुरु किआ है , में सत्य लिखने का बल रखता हु और हिन्दू बुलेटिन मेरी इन बातों को लोगो तक पहुँचाने में मदद कर रहा है !

Leave a Reply