महाशिवरात्रि पर शिव पूजन में श्रृंगार की इन चीजों का करें प्रयोग, भोलेबाबा अभिलाषा करेंगे पूरी

अध्यात्म

महाशिवरात्रि के पर्व पर भगवान भोलेनाथ का अभिषेक होता है, भक्त इस दिन इनको प्रसन्न करने के लिए हर संभव कोशिश में लगे रहते हैं और तरह-तरह के उपाय अपनाते हैं, महाशिवरात्रि का त्यौहार भोलेनाथ की पूजा अर्चना करने के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण माना गया है, ऐसा बताया जाता है कि जो भक्त अपने सच्चे मन से इनकी पूजा-अर्चना करता है उनकी सभी मनोकामनाएं भोले बाबा पूरी करते हैं।

शिवरात्रि के दिन भगवान शिव जी का श्रृंगार भी किया जाता है, अगर आप शिवरात्रि के दिन शिवजी का श्रृंगार करेंगे तो इससे आपकी अनेकों मनोकामनाएं पूरी हो सकती हैं, आज हम आपको इस लेख के माध्यम से शिवजी के श्रृंगार में कौन-कौन सी चीजों को शामिल करना चाहिए और क्या बातों का ध्यान देना चाहिए? इसके बारे में जानकारी देने वाले हैं।

आइए जानते हैं महाशिवरात्रि पर शिव पूजन में श्रृंगार की किन चीजों का करें इस्तेमाल

गंगा जल

जैसा कि आप लोग जानते हैं भगवान शिवजी की जटाओं में गंगा है, जब पृथ्वी विकास यात्रा के लिए गंगा जी को स्वर्ग से धरती पर लाया गया था तब पृथ्वी की क्षमता गंगा के आवेश को सहन करने में सक्षम नहीं थी, इसीलिए भगवान शिवजी ने अपनी जटाओं में गंगा को समेट लिया था, इसी वजह से सबसे पहला सिंगार गंगा माना गया है, इसलिए आप इनकी पूजा में गंगा जल का प्रयोग अवश्य करें।

त्रिशूल

आप लोगों को पता है कि हमेशा भगवान शिव जी के साथ त्रिशूल अवश्य रहता है, त्रिशूल के तीन शूल सत, रज और तम गुण से प्रभावित भूत, भविष्य और वर्तमान का घोतक है, भगवान शिव जी ने इसी से दुष्टों का अंत किया था, इसलिए आप इनके श्रृंगार सामग्री में त्रिशूल अवश्य प्रयोग करें।

मुकुट यानी चंद्रमा

भगवान शिव जी के मुकुट के रूप में चंद्रमा विराजमान है, इसलिए आप महाशिवरात्रि पर भगवान शिव जी के श्रृंगार में चंद्रमा का इस्तेमाल अवश्य करें।

डमरु

भगवान शिव जी के हाथ में हमेशा डमरु रहता है, अगर आप डमरू को श्रृंगार की सामग्री में इस्तेमाल करते हैं तो इससे आपको शुभ फल मिलेगा।

रुद्राक्ष

रुद्राक्ष को बहुत ही खास माना जाता है, भगवान शिव जी अपने गले में रुद्राक्ष की माला धारण किए रहते हैं, ऐसा बताया जाता है कि रुद्राक्ष की उत्पत्ति भगवान शिव जी के आंसुओ से हुई थी।

नाग देवता

भगवान शिव जी के श्रृंगार में आप नाग का इस्तेमाल अवश्य करें, जैसा कि आप लोगों ने देखा होगा कि भगवान शिव जी अपने गले में नाग देवता को धारण करते हैं.

भस्म

भगवान शिवजी का महत्वपूर्ण श्रृंगार भस्म माना जाता है, अगर आप भस्म का इस्तेमाल करते हैं तो इससे भोलेनाथ प्रसन्न होंगे।

उपरोक्त आपको महाशिवरात्रि के दिन शिव जी के सिंगार में प्रयोग की जाने वाली सामग्रियों के बारे में जानकारी दी गई है, अगर आप इन सामग्रियों को भगवान शिव जी की पूजा के दौरान इस्तेमाल करते हैं तो इससे भगवान भोलेनाथ आपसे प्रसन्न होंगे और आपकी सभी मन की मुराद शीघ्र पूरी करेंगे, यह सभी चीजें भगवान शिवजी से संबंधित है यदि देवी-देवताओं से संबंधित कोई भी चीज अगर उनकी पूजा में इस्तेमाल किया जाए तो इससे व्यक्ति को शुभ फल की प्राप्ति होती है और उसकी की गई पूजा सफल होती है।


Leave a Reply