सावन शनिवार के इन उपायों से मान जाएंगे शनिदेव, दिलाएंगे सभी कष्टों से मुक्ति

अध्यात्म

सावन का महीना देवों के देव महादेव की विशेष पूजा का शुभ समय माना जाता है, इसके अलावा सावन महीने में शनिवार का भी बहुत ही खास महत्व माना गया है। अगर आप सावन शनिवार के दिन कुछ सरल से उपाय करते हैं तो इससे शनि दोष से मुक्ति मिल सकती है। आपको बता दें कि 01 अगस्त को शनि प्रदोष व्रत है और यह दिन बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है। इस बार सावन माह में शनि प्रदोष व्रत के दिन अद्भुत संयोग बन रहा है। अगर आप इस दिन कुछ सरल से उपाय करते हैं तो इससे शनिदेव की कृपा दृष्टि आपके ऊपर हमेशा बनी रहेगी। सावन शनिवार के यह उपाय शनि दोषों से छुटकारा दिलाएंगे।

शनि के प्रकोप से बचने के लिए इन बातों का रखें ध्यान

  • आप शनि प्रदोष व्रत के दिन सुबह के समय जल्दी उठकर भगवान का ध्यान कीजिए।
  • इस दिन आप परिवार के सभी सदस्यों के साथ मिलजुल कर रहिये।
  • शनि की साढ़ेसाती से बचने के लिए आप शराब और अन्य नशीले पदार्थों से दूर रहें।
  • पराई स्त्रियों के साथ रिश्ता ना रखें और ना ही किसी पराई स्त्री पर बुरी नजर डालें।
  • आप किसी का भी दिल ना दुखाएं। आप ऐसा कोई भी कार्य ना करें जिससे व्यक्ति का मन दुखी हो।

शनि प्रदोष व्रत को इन खास उपायों से शनिदेव होंगे प्रसन्न

  • आप शनि प्रदोष व्रत के दिन सुबह और शाम हनुमान चालीसा का पाठ करें।
  • अगर नौकरी में किसी प्रकार की बाधा उत्पन्न हो रही है तो आप शनि प्रदोष व्रत को नाव की कील की अंगूठी धारण कीजिए।
  • अगर आप शनि के अशुभ प्रभाव से बचना चाहते हैं तो इस दिन शनि मंत्र “ओम प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः” का जाप करें।
  • अगर आपकी शादीशुदा जिंदगी में परेशानियां उत्पन्न हो रही है तो इसको दूर करने के लिए शनि प्रदोष व्रत के दिन घर के आसपास किसी भी हनुमान मंदिर में जाएं और वहां भगवान हनुमान जी को सिंदूर अर्पित कीजिए।

  • अगर आप शनि प्रदोष व्रत के दिन सुंदरकांड का पाठ करते हैं तो इससे जीवन की सभी परेशानियां दूर होती हैं और आपकी शादीशुदा जिंदगी में खुशियां आती हैं।
  • कारोबार की परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए शनि प्रदोष व्रत के दिन भगवान शिव जी का अभिषेक कीजिए।
  • अगर आप शनि प्रदोष व्रत के दिन शनि स्त्रोत का पाठ करते हैं तो इससे जीवन की परेशानियां दूर होती है और शनिदेव की भी कृपा बनी रहती है।
  • अगर कोई व्यक्ति शनि की साढ़ेसाती से पीड़ित है तो उसको शनि प्रदोष व्रत के दिन शनिदेव को तेल अर्पित जरूर करना चाहिए। ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक अगर इस दिन शनि महाराज को तेल अर्पित किया जाए तो ग्रहों के दोषों से भी छुटकारा मिलता है।

इस मंत्र से शनिदेव होंगे खुश

  • अगर आप शनि महाराज को प्रसन्न करना चाहते हैं तो इसके लिए शनि प्रदोष व्रत के दिन शनि वैदिक मंत्र “ओम शं नो देवीरभिष्टय आपो भवन्तु पीतये। शं योरभि स्रवन्तु न:” का जाप जरूर कीजिए।
  • आप शनि प्रदोष व्रत के दिन शिव का पंचाक्षर मंत्र “नमः शिवाय” का जाप करें। अगर आप इस मंत्र में “ॐ” लगा देंगे तो यह षडक्षर मंत्र यानी “ॐ नमः शिवाय” हो जाता है।

Leave a Reply