ममता बनर्जी ने BJP दफ्तर पर किया कब्जा, ताला तुड़वा कर, पेंट कर के लिखा अपनी पार्टी का नाम

पश्चिम बंगाल में इन दिनों बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस पार्टी के बीच हो रही लड़ाई ने एक नया मोड़ ले लिया है और अब ये पार्टी एक दूसरे के दफ्तरों पर कब्जा करने लगी हुई हैं। हाल ही में तृणमूल कांग्रेस पार्टी के नेताओं की और से बीजेपी के दफ्तर का ताला तोड़ा गया है और इस दफ्तर पर तृणमूल कांग्रेस पार्टी का चुनावी चिन्ह बनाया गया है। ये घटना बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले की है।

खुद ममता बनर्जी ने तुड़वाया ताला

उत्तर 24 परगना जिले में स्थित बीजेपी पार्टी के दफ्तर का ताला खुद तृणमूल कांग्रेस की अध्यक्ष ममता बनर्जी ने तुड़वाया है और ताला तुड़वाने के बाद ममता बनर्जी ने अपने हाथों से दीवार पर अपनी पार्टी का चिन्ह बनाया है और पार्टी का नाम लिखा है। ममता ने अपनी अगुवाई में बीजेपी पार्टी के दफ्तर पर हुए भगवे रंग के ऊपर दूसरे रंग का पेंट भी करवाया और बीजेपी के दफ्तर पर बनें कमल के निशान को भी वहां से हटवाया।

30 मई के दिन किया बीजेपी पार्टी के दफ्तर पर कब्जा

30 मई को जब नरेंद्र मोदी दूसरी बार प्रधानमंत्री के रुप में शपथ ले रहे थे। तो उसी दिन ममता बनर्जी ने बंगाल के उत्तर 24 परगना जिले में धरना दिया था और नैहाटी में रैली को संबोधित किया था। रैली को संबोधित करने के बाद ममता बनर्जी बीजेपी पार्टी के दफ्तर चले गई थी और इस दफ्तर पर कब्जा कर लिया था। दरअसल ममता बनर्जी का आरोप है कि ये दफ्तर उनकी पार्टी का था और इस दफ्तर पर बीजेपी ने अपना कब्जा कर लिया था।

जय श्रीराम को लेकर ममता को घेरे

नैहाटी में ममता बनर्जी द्वारा की गई रैली में वहां पर मौजूद कुछ लोगों ने जय श्री राम के नारे लगा दिए थे और ये नारा सुनने के बाद ममता को गुस्सा आ गया था और ममता ने पुलिस को कार्रवाई करने का आदेश दिया था। जिसके बाद कई सारे लोगों को हिरासत में लिया गया था। वहीं ममता के इसी बर्ताव पर बीजेपी पार्टी के नेता कैलाश विजयवर्गीय ने एक बयान देकर कहा था कि ममता का मानसिक संतुलन गड़बड़ा गया है और एक मुख्यमंत्री द्वारा की गई ये हरकतें बहुत आश्चर्य की बात है।

ममता को भेजे जाएंगे ‘जय श्रीराम’ लिखे संदेश

ममता की और से जय श्री राम के नारे पर आपत्ति जताने के बाद बीजेपी पार्टी इस मुद्दे को पकड़कर बैठी हुई है और बीजेपी पार्टी ने ममता के विरुद्ध पोस्टकार्ड मुहिम चलाई है। इस मुहिम के तहत देश भर से बीजेपी पार्टी के नेता और कार्यकर्ता ममता बनर्जी को एक पोस्ट कार्ड भजने में लगे हुए हैं और इस पोस्ट कार्ड पर ‘जय श्रीराम’ लिखा हुआ है। ये मुहिम बीजेपी के सांसद अर्जुन सिंह ने ममता के खिलाफ शुरु की है और ममता को इस मुहिम के तहत लगभग 10 लाख पोस्टकार्ड भेजने जाने हैं।

वहीं जय श्री राम के नारे के विवाद पर ममता बनर्जी ने अपना पक्ष भी रखा है और कहा है कि उन्हें जय श्री राम से परेशानी नहीं है, बीजेपी पार्टी इसका सियासी फायदा उठा रही है।

Leave a Reply