पीएम मोदी के साथ चाय पीने का मिल रहा है सुनहरा मौका, बस करना होगा ये छोटा सा काम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का चाय से गहरा नाता रहा है। साल 2014 में जब वे पहली बार प्रधानमंत्री के उम्मीदवार के रुप में चुनाव लड़ रहे थे, तब से ही चाय पर चर्चा शुरु है। अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और चाय पर चर्चा तो आप खूब कर चुके होंगे, लेकिन क्या आप पीएम मोदी के साथ बैठकर चाय पीना चाहते हैं? शायद इस सवाल का जवाब हां ही होगा। जी हां, यदि आप पीएम मोदी के साथ चाय पीना चाहते हैं, तो आपका यह सपना अब सच हो जाएगा, जिसके लिए आपको बस एक काम करना होगा। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास है?

यूं तो पीएम मोदी के साथ अधिकारियों या फिर हस्तियों को ही चाय पर चर्चा करते हुए देखा होगा, लेकिन अब आम नागरिक भी उनके साथ चाय पी सकता है। मोदी सरकार ने इसके लिए एक शानदार स्कीम निकाली है, जिसमें योगदान देने के बाद आपको उनके साथ चाय पीने का मौका मिलेगा। इतना ही नहीं, इस योजना के तहत यदि आप अपना काम करते हैं, तो आपको वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण के साथ भी चाय पीने का मौका मिल सकता है। तो चलिए अब जानते हैं कि पीएम मोदी या फिर निर्मला सीतारमण के साथ चाय पीने के लिए आपको क्या करना होगा।

बस करना होगा ये छोटा सा काम

मोदी सरकार देश की अर्थव्यवस्था को मजबूती देने के लिए टैक्स कलेक्शन के लक्ष्य के साथ अपने दूसरे कार्यकाल में बढ़ती हुई नजर आ रही है। इसके तहत मोदी सरकार ने एक स्कीम निकाली है, जोकि अब तक की सबसे फ्रेश स्कीम है। इस स्कीम के तहत जो लोग सबसे ज्यादा टैक्स भरेंगे, उन्हें पीएम मोदी या निर्मला सीतारमण के साथ चाय पीने का मौका मिलेगा। इससे इनकम टैक्स के कलेक्शन को बढ़ाने की योजना बनाई गई है।

जुलाई में हो सकता है इस योजना का ऐलान

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल के पहले बजट में इनकम टैक्स कलेक्शन के बढ़ावा पर फोकस किया जा सकता है, जिसके लिए इस स्कीम पर चर्चा चल रही है। सूत्रों की माने तो जुलाई में पेश होने वाले बजट के दौरान सरकार इस योजना की घोषणा कर सकती है, जिसके तहत लोगों को टैक्स भरने के लिए प्रेरित किया जा सकता है। इतना ही नहीं, सरकारी सूत्रों की माने तो इससे टैक्स कलेक्शन में काफी बढ़ावा देखने को मिलेगा, जिससे अर्थव्यवस्था दौड़ती हुई नजर आएगी।

टैक्स कलेक्शन से किसानों को मिलेगा फायदा

सूत्रों की माने तो टैक्स कलेक्शन के इस आईडिया से किसानों को फायदा मिलेगा। दरअसल, किसान सम्मान निधि योजना के तहत सरकार पर 12 हजार करोड़ का अतिरिक्त बोझ बढ़ेगा, जिसके लिए सरकार ने टैक्स कलेक्शन पर फोकस करना शुरु कर दिया है। इसके लिए सरकार ने यह स्कीम सोची है, जिसे जुलाई के बाद लागू किया जा सकता है। एक बार फिर से बता दें कि ज्यादा टैक्स भरने वाले लोगों को पीएम मोदी या वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण के साथ चाय पीने का मौका मिलेगा।

Leave a Reply