बाढ़ के पानी में खेलना मासूम को पड़ा महंगा, होने लगी उल्टियाँ, कोमा में जा पहुंचा

मुसीबत कब कहाँ से आ जाए कुछ कहा नहीं जा सकता हैं. खासकर जब मामला बच्चों से जुड़ा हुआ हो तो इसके चांस और भी बढ़ जाते हैं. ये माता पिता की जिम्मेदारी होती हैं कि वो अपने बच्चों को हर तरह के संभावित खतरों से दूर ही रखे. हालाँकि कुछ मामले ऐसे भी होते हैं जिसमे मुसीबत बिना बताए आती हैं. कुछ ऐसा हो जाता हैं जिसकी हमें उम्मीद भी नहीं होती हैं. ऐसा ही कुछ बीते दिनों मलेशिया में एक बच्चे के साथ भी हुआ. यहाँ बच्चे बाढ़ के पानी में खेल रहा था और इसके कुछ ही देर बाद खून की उल्टियाँ करने लगा. आइए विस्तार से जाने कि आखिर ये मामला क्या हैं.

दरअसल मलेशिया के कुछ इलाकों में बहुत तेज़ बारिश हुई थी. इस बारिश की वजह से बाढ़ जैसे हालात बन गए. कई परिवार अपना घर छोड़ चले गए. बहुत से लोगो के घर में पानी भी घुस गया. वहीं कईयों का सामान का नुकसान हुआ. हालाँकि मलेशिया के टेरेंगनू में रहने वाले एक बच्चे को इस बाढ़ के पानी में खेलना इतना महंगा पड़ गया कि उसकी जान पर बन आई. हाल ही में फेसबुक के माध्यम से ये मामला रौशनी में आया हैं. इस पोस्ट में बताया गया कि एक छोटा सा बच्चा घर के बाहर बाढ़ के पानी में खलेते हुए नहा रहा था. इसके बाद जब वो घर आया तो उसकी मम्मी ने साफ़ पानी से बच्चे को नहलाया. लेकिन इसके तुरंत बाद ही बच्चा अचानक से खून की उल्टियाँ करने लगा. ये देख माँ घबरा गई और उसे तुरंत हॉस्पिटल ले गई.

अस्पताल ने डॉक्टरों ने जब बच्चे की जांच की तो उनके भी होश उड़ गए. दरअसल बच्चा जब बढ़ के पानी में नहा रहा था तब उसके पिछले हिस्से (मलद्वार से) से जोंक शरीर में प्रवेश कर गया. जिन्हें नहीं पता कि जोंक क्या होता हैं उन्हें बता दे कि ये पानी में पाया जाने वाला एक कीड़ा होता हैं जो इंसानों या जानवरों का खून चूसता हैं. अब जब ये कीड़ा बच्चे की बॉडी के अंदर प्रवेश कर गया तो वो वहां से ही बच्चे का खून चूसने लगा. इस वजह से खून की उल्टियाँ करने लगा और कोमा में भी चला गया. फिर बाद में डॉक्टर्स की टीम ने जैसे तैसे उस जोंक को बच्चे की बॉडी से बाहर निकाला.

ये पूरा मामला सच में बड़ा डरवाना था. बच्चे की माँ ने भी लोगो से अपील की हैं कि वे सभी अपने बच्चों का ध्यान रखे और उन्हें इस तरह बाढ़ के पानी में ना खेलने दे. वैसे आपको बता दे कि ये जोंक आपको नदी तालाब या नाले में भी मिल सकते हैं. इसलिए कभी भी अपने बच्चों को बिना निगरानी के खुला ना छोड़े. हमेशा उसका ख्याल रखे. यदि आपको लगता हैं कि किसी विशेष जगह जाकर बच्चे को खतरा हो सकता हैं तो उसे वहां ना भेजे. इस तरह थोड़ी सी सावधानी आपके बच्चे की जान बचा सकती हैं.

हमारी आप से विनती हैं कि इस जानकारी को दूसरों के साथ शेयर जरूर करे ताकि वे भी सतर्क हो जाए.

Leave a Reply