बेटे के लिए किया 35KG वजन कम, डांस ने बनाया मुकेश की बीवी, जाने नीता अंबानी की 10 दिलचस्प बातें

Featured

भारत के सबसे बड़े बिजनेसमैन और अमीर आदमी की बीवी नीता अंबानी को तो आप सभी जानते ही हैं. वे रिलायंस फाउंडेशन की फाउंडर होने के साथ आईपीएल की मुंबई इंडियन्स की मालकिन भी हैं. एक अमीर महिला होने के बावजूद नीता देश और उसकी जनता के लिए कई तरह के नेक काम करती रहती हैं. अधिकतर लोग नीता को सिर्फ मुकेश अंबानी की पत्नी और एक खुबसूरत अमीर महिला के रूप में ही जानते हैं. बहुत कम लोग नीता की निजी जिन्दगी और करियर के बारे में जानते हैं. ऐसे में अज हम आपको नीता अंबानी से जुड़ी कुछ ऐसी बातें बताने जा रहे हैं जिसकी जानकारी बहुत कम लोगो को ही हैं.

1. नीता अंबानी का जन्म 1 नवंबर 1963 में मुंबई के एक मध्यमवर्गीय परिवार में हुआ था. उनके पिता का नाम रविन्द्रभाई दलाल और माता का नाम पूर्णिमा दलाल हैं. उनकी बहन ममता दलाल स्कूल में टीचर हैं.

2. नीता बड़ी होकर एक प्रोफेशनल भरतनाट्यम डांसर बनना चाहती थी. इसके लिए उन्होंने बचपन से ही ट्रेनिंग शुरू कर दी थी. आज भी उनकी फैमिली के फंक्शन में हम उन्हें शानदार भरतनाट्यम करते हुए देख सकते हैं. स्कूल ख़त्म करने के बाद नीता ने नरसी मोंजी कॉलेज ऑफ़ कॉमर्स से कॉमर्स की डिग्री हासिल की थी.

3. नीता जब एक डांस परफॉरमेंस दे रही थी उस दौरान धीरुभाई अंबानी और उनकी पत्नी कोकिलाबेन भी वहां मौजूद थे. इस डांस से वो इतने प्रभावित हुए कि उन्होंने नीता को अपनी बहू बनने का ऑफर दे दिया. इसके लिए धीरुभाई अंबानी ने नीता के घर कॉल किया था. पहले तप नीता को लगा कि कोई उनके साथ मजाक कर रहा हैं इसलिए उन्होंने धीरुभाई अंबानी का फोन काट दिया था. लेकिन जब दुबारा कॉल आया तो नीता के पिता ने उठाया और उन्हें पता चला कि धीरुभाई सच में मुकेश अंबानी के लिए उनकी बेटी का हाथ मांग रहे हैं.

4. शादी के पहले मुकेश के साथ समय बिताने के लिए नीता ने उन्हें अपनी लग्जरी कार छोड़ बस में साथ में सफ़र करने के लिए मनाया था.

5. शादी के पहले नीता ने शर्त रखी थी कि वो अंबानी परिवार की बहू बनने के बाद भी नौकरी करेगी. मुकेश ने ये शर्त मान ली थी. फिर शादी के बाद नीता पातालगंगा प्लांट के ग्रामीण स्कूल में टीचिंग किया करती थी. 1997 में उन्होंने जामनगर टाउनशिप औए स्कूल प्रोजेक्ट की अगवाई भी की. ये टाउनशिप रिलायंस ग्रुप के कर्मचारियों के लिए थी. इसके बाद साल 2010 में नीता ने रिलायंस फाउंडेशन की नीव रखी. ये फाउंडेशन शिक्षा, महिला सशक्तिकरण, हेल्थ केयर, आर्ट और भारतीय संकृति संरक्षण के क्षेत्र में काम करती हैं. इसके साथ ही नीता देश के सबसे बेहतरीन स्कूल धीरुभाई अंबानी इंटरनेशनल स्कूल की फाउंडर भी हैं. इस स्कूल के एडमिशन के दौरान नीता बाहर जाना और अपना मोबाइल फोन दोनों ही बंद कर देती हैं ताकि कोई उनसे एडमिशन के लिए सिफारिश ना कर सके.

6. नीता अपने छोटे बेटे अनंत को वजन कम करने के लिए जागरूक करना चाहती थी इसलिए उन्होंने खुद अपना 35 किलो वजन घटाया था.

7. 2016 में नीता को फोर्ब्स मैगजीन ने एशिया की सबसे ज्यादा प्रभावशाली महिला का खिताब दिया था.

8. नीता भारत के पहले ब्रेल न्यूज़पेपर की फाउंडर भी हैं. बता दे कि ब्रेल लिपी खासकर नेत्रहीन लोगो के लिए होती हैं.

9. 4 जून 2016 को इंटरनेशनल ओलिंपिक कमिटी की मेंबर बनने वाली भारत की पहली महिला बनी थी.

10. ग्रासरूट्स स्पोर्ट्स में कॉन्ट्रिब्यूशन के लिए उन्हें साल 2017 में राष्ट्रपति द्वारा ‘राष्ट्रीय खेल प्रोत्साहन अवार्ड’ भी मिला था. इसके अलावा उन्हें न्यूयॉर्क के मेट्रोपोलिटन म्यूजियम में सम्मान भी मिला था.


Leave a Reply